पतंजलि ने बना ली कोरोना की दवा? Corona Se Jung Baba Ramdev Ke Sang

CORONA SE JUNG BABA RAMDEV KE SANG

कोरोना की जंग बाबा रामदेव के संग – Corona Se Jung Baba Ramdev ke sang

दुनियां में योग को चरम आर पहुँचाने वाले बाबा राम देव की कंपनी पतंजलि ने दावा किया है कि उन्होंने कोरोना की दवा कर ली है तैयार, उनका दावा है कि उनकी दवा ने सैकड़ों कोरोना रोगियों को स्वस्थ कर दिया है..

कोरोना से जंग में सबी देश एक दूसरे से आगे निकलने की गौड़ लगा रहे हैं, और सबसे पहले इसकी दावा खोजने में लगे हैं, लेकिन बाबा राम की माने तो भारत ने इस युद्ध में बाजी मार ली है. और विश्वप्रसिद्ध पतंजलि ब्रांड की तरफ से दावा किया गया है कि उन्होंने कोरोना की दवा ढूंढ ली है.

पतंजलि की दवा का आने वाला है क्लीनिकल ट्रायल रिजल्ट

पतंजलि ने कहा है की जल्द ही उनकी दवा के क्लिनिकल कंट्रोल ट्रायल का रिजल्ट भी आने वाला है.  अगर यह दावा सच्चा निकलता है तो दुनिया में  भारत का यह सबसे बड़ा काम होगा,  और दुनियां में योग और आयुर्वेद का डंका एक बार फिर बजेगा,

पतंजलि के हरिद्वार में चल रहा अनुसंधान

खबरों के अनुसार लम्बे समय से हरिद्वार में पतंजलि की लैब में कोरोना दवा पर कार्य चल रहा था, पतंजलि का नाम आज की तारीख में सारी दुनिया में आयुर्वेद में नंबर वन है,  जिसका श्रेय बाबा रामदेव और आचार्य बालकृष्ण को जाता है, और अगर कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने में पतंजलि का यह दवा सच निकलता है तो भारत की तरफ से यह इस दशक की सबसे अहम दवा मानी जायेग,

विश्वस्तरीय है पतंजलि शोध केंद्र

पतंजलि की सभी दवाएं पतंजलि शोध केंद्र में निर्मित की जाती हैं, जोकि की एक विश्वस्तरीय अनुसन्धान केंद्र हाउ और उत्तराखंड के हरिद्वार में स्थित है, अगर बाबा रामदेव का दावा [ Corona Se Jung Baba Ramdev Ke Sang ] सच हुआ तो पतंजलि शोध केंद्र को कोरोना दवा के अनुसंधान के लिए जाना जा सकता है, अब जल्द ही इस दावा के रिजल्ट आने वाले हैं उसके बाद हो सकता है पतंजलि भारत का नाम दुनियां में रोशन कर दे,

न्यूज़ वन नेशन भी पतंजलि को शुभकामनाएं देता है और कोरोना से जंग लड़ने  के लिए बाबा राम देव और पतंजलि परिवार का आभार व्यक्त करता है जय हिन्द

इन लोकप्रिय ख़बरों को भी पढ़ें :

online-paise-kaise-kamaye-banner22.jpg

About Jitendra Arora

- सोशल रिपोर्टर, मोटिवेटर, क्रिएटर | - यूटूबर, वेब & एप डेवलपर |

View all posts by Jitendra Arora →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *