ज़ी न्यूज़ और बड़ी कंपनियों को चैलेंज, आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना

आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना

डिजिटल स्ट्राइक के बाद चीन पर अगला कदम

मेड इन इण्डिया की चर्चा आजकल हर कोई कर रहा है, मीडिया पर भी दिन रात मेड इन इण्डिया छाया रहता है, लेकिन असल में होना क्या चाहिए और क्या करना चाहिए उसका रोड मैप अभी तक तैयार नहीं किया गया है, इसीलिए चीन पर मोबाइल एप की सर्जिकल स्ट्राइक करने के बाद अब अगली स्ट्राइक चीनी कंपनियों पर करनी है, यह कदम आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना [Atmanirbhar Bharat Abhiyan Yojna] में एक क्रन्ति का काम कर सकता है,

आज की पोस्ट में आपको बताने जा रहे हैं कि कैसे हम आत्म निर्भर बन सकते हैं और लोकल को वोकल बना सकते हैं,

हिन्दुस्तान की 500 कंपनियों को चैलेंज

सबसे पहले ज़ी न्यूज़ और उनके मालिक श्री सुभाष चंद्रा के साथ साथ हिन्दुस्तान की 500 कंपनियों को एक चैलेंज स्वीकार करना होगा और वो चैलेंज हैं कि यह सभी बड़ी कम्पनियाँ चीन के एक-एक प्रोडक्ट को पकड़ ले – जैसे एक कम्पनी चीन के मोबाइल को, दूसरी कंपनी चीन के बने लाइट को, एक कंपनी चीन में बने टीवी को, एक कम्पनी चीन में बने खिलोनों को, एक कंपनी चीन से आ रही दवाइयों को, एक कंपनी चीन में बने इलेक्ट्रॉनिक्स गैजेट्स को, ऐसी ही 500 या उससे अधिक बड़ी कम्पनियाँ किसी भी एक चीनी सामान पर रिसर्च करे, और उससे अच्छा और दमदार प्रोडक्ट बनाकर देशवासियों और दुनियां को प्रस्तुत करे, तो हम बहुत जल्द आत्म निर्भर बन सकते हैं, और चीन पर निर्भरता कम कर सकते हैं,

रिसर्च में भी एक दुसरे का साथ

अगर ये कम्पनियाँ रिसर्च में भी एक दुसरे का साथ दे और सरकार के वैज्ञानिक और और तकनिकी विशेषज्ञों भी इन सभी कंपनियों की R & D में सहयोग करे तो हम ये सपना बहुत जल्द पूरा कर लेंगे,

प्रतिभाशाली युवाओं को मिले मौका।

इसके साथ अगर देश के प्रतिभाशाली युवक-युवतियां चाहे वह बड़े बड़े कॉलेजों में पढ़ रहे हों या किसी भी सरकारी स्कूलों में उनके ज्ञान का उपयोग भी रिसर्च में किया जाए तो आत्मनिर्भर बनने का मकसद बहुत ही जल्दी पूरा किया जा सकता है,

ऐसा करने से देश में आर्थिक मजबूती भी आयगी और रोज़गार के लाखों अवसर बनेंगे,

तो दोस्तों आज की पोस्ट में आपने एक रास्ता तो जान ही लिया है की आत्मनिर्भर [Atmanirbhar Bharat Abhiyan Yojna] बनने के लिए हमें क्या करना है, पूरे देश को एक होकर चीन से मुकाबला करना है, अगर आप भी इस विचार से सहमत हैं तो इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाने में हमारी मदद करें, जिससे हमारे देश में एक नई क्रांति आ सके – जय हिन्द

इन लोकप्रिय ख़बरों को भी पढ़ें :

पैसे कैसे कमायें ? Paise Kaise Kamaye