gdp growth of india

अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए आत्मनिर्भर बनना जरुरी

देश में कोरोना वायरस का प्रकोप भयंकर रूप लेता ही जा रहा है, और आज इसके 2 लाख मामले हो गए हैं, लेकिन सरकार आर्थिक दशा सुधारने के लिए लोक डाउन में ढील दे रही है, लेकिन जब तक हम आत्म निर्भर नहीं बनेंगे तब तक हमारी अर्थ व्यवस्था की हालत नहीं सुधरने वाली,हमारे प्रधानमंत्री मोदी जी ने भी आत्मनिर्भर भारत का संकल्प लिया है,लेकिन उसके लिए हमें चीन जैसे देशों से आने वाले सामानों का विकल्प तैयार करना होगा, आज हम बहुत सारी चीजों के लिए चीन पर निर्भर है मोबाइल हो या कोई दूसरा इलेक्ट्रोनिक सामान सभी चीन की कंपनी द्वारा निर्मित है, मोबाइल के अंदर उपयोग होने वाली एप्स भी चीन की उपयोग में लाइ जा रही हैं, बच्चों के खिलोनो से लेकर त्योहारों मनाने के लिए लिए जाने वाले सामान भी चाइना से आ रहे हैं ,हम चीन से इतना सामान आयात करवाते हैं और उसकी अर्थव्यवस्था को दिनोंदिन बढ़ाते जा रहे हैं लेकिन चीन हमेशा भारत के खिलाफ काम करता है, आतंकवाद फैलाने वाला देश पकिस्तान का मुद्दा हो या सीमा विवाद का सभी मुद्दों पर चीन भारत के विरोध में काम करता है ,

सौ रही हैं भारत की कम्पनियाँ ?

इतना सब होने के बाद भी भारत की कम्पनियां सौ रही हैं, चाहे वह बड़ी कंपनी हो या छोटी कोई भी चीन के बने सामानों को टक्कर देने के लिये आगे नहीं आ रही है,करोड़ों रुपये का मुनाफा दिखने के बाद भी किसी कंपनी का आगे ना आना चिंता का विषय है,इसके लिए आप मित्रों एप का उदाहरण देख सकते हैं, जिसने 1-2 महीनों में ही 50 लाख से ज्यादा यूजर बना लिए और चीन की एप टिकटोक को टक्कर दे दी, हालांकि गूगल प्ले स्टोर ने इसे हटा दिया है,

विडियो – GDP Growth of India

 

https://www.facebook.com/newsonenation/videos/2487049834941377/

देश की कंपनियां घाटे में ? GDP Growth of India

लेकिन भारत की कम्पनियाँ यह सब चुपचाप क्यों देख रही हैं, क्या वह टिकटोक से अच्छी एप नहीं बना सकती, वैसे तो भारती एयरटेल और आईडिया जैसी कम्पनियाँ घाटे में चल रही हैं और करोड़ों रुपये का नुकसान दिखा रही हैं लेकिन वह टिक टोक जैसे सोशल प्लेटफार्म भारत के लोगों के लिए नहीं बना सकती, जिससे उनको करोड़ों रुपये का फायदा हो सकता हैं,जहाँ जिओ कंपनी ने आते ही धमाल मचा दिया नई नई एप बाजार में लाइ चीन के शेयर इट को टक्कर देने के लिए जिओ स्विच लाइ, जिओ चैट लाइ, और नंबर वन कंपनी बन गई,

वहीँ भारत की दूसरी कम्पनियाँ अभी तक सौ रही हैं,

अगर इन कम्नियों के कर्मचारियों में टिकटोक से बढ़िया एप बनाने का कोई आईडिया नहीं है तो न्यूज़ वन नेशन की टेक्नीकल टीम से संपर्क करें, हम उन्हें बतायंगे की कैसी एप बनानी है और कैसे मुनाफा कमाना है,

हुनर में कमी नहीं –

हमारे देश के युवा के हुनर में कोई कमी नहीं है और वह भी टिक टोक, फेसबुक, यूटियूब, व्हाट्सएप, शेयर इट से भी अच्छी एप बना सकते हैं लेकिन उन्हें अवसर नहीं मिलता, माहौल नहीं मिलता, उनके पास इतने आईडिया होते हैं जो दब कर रह जाते हैं,अगर युवाओं को बड़ी कम्पनियाँ एक मंच प्रदान करे तो हम दुनियां की हर कम्पनी से बेहतर सामान बनाकर दिखा सकते हैं,दोस्तों अगर आप भी भारत को आत्म निर्भर बनना देखना चाहते है तो कुछ तो करना होगा, हमारे विचार से सहमत हैं तो इस पोस्ट GDP Growth of India को ज्यादा से ज्यादा लाइक और शेयर करें – और देश की बड़ी कंपनियों और सरकार को जगाने में हमारी मदद करे – जय हिन्द

इन लोकप्रिय ख़बरों को भी पढ़ें :

By Jitendra Arora

- एडिटर, मोटिवेटर, क्रिएटर | - वेब & एप डेवलपर |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *