कुछ पाने के लिए कुछ खोना पड़ता है : Kuch Pane Ke Liye Kuch Khona Padta Hai

हेलो दोस्तों आज मैं लेकर आया हूं आपके लिए एक नई कहानी जिसे पढ़कर आपको बहुत अच्छी सीख मिल जाएगी! एक गांव में एक लड़का रहता था जो बहुत गरीब था, हर वक्त वह लड़का यह सोचता था कि कब मैं गरीबी से बाहर निकलूंगा। एक बार उसके पड़ोस वाले गांव में एक बाबा आये हुए थे! जो हर किसी के सवाल का जवाब देते रहते थे वह लड़का भी अपने सवाल का जवाब जानने के लिए अपने गांव से उसे गांव के लिए जंगल के रास्ते से निकाल गया।

Balidan Motivational Story in Hindi

जब यह लड़का जंगल की रास्ते से जा रहा था तो अंधेरा काफी हो चुका था . इसे जंगल में एक घर दिखाया दिया जो बहुत बड़ा और आलीशान घर था. इस लड़के ने वहां रात गुजारने के लिए घर के मालिक से इजाज़त ले ली! उसे घर के मालिक ने लड़के से पूछा कि तुम उसके गांव में किस से मिलने जा रहे हो ? तो लड़के ने कहा कि मैं एक बाबा से अपने सवाल का जवाब पूछने जा रहा हूँ! यह सुनने के बाद घर के मालिक ने लड़के से कहा कि तुम ऊन बाबा से मेरा भी एक सवाल पूछना. मेरी बेटी 20 साल की है और वाह गूंगी है तुम उसे बाबा से पूछना कि वह कब बोलना शुरू करेगी।

लड़की ने घर के मालिक को hm कहा और अगली सुबह वहां से निकल गया तो एक बुडा आदमी मिला जिसके हाथ में एक जादू की छड़ी थी। बुड्ढे जादूगर ने लड़के से पूछा तुम कहां जा रहे हो!लड़के ने कहा मैं एक बाबा से मिलाने जा रहा हूं. एक अपना सवाल का जवाब पाने के लिए। जादूगर ने कहा उसे बाबा ने यह मेरा सवाल भी पूछा कि मैं स्वर्ग में कब जाऊंगा तो लड़का( हां) कह कर चला गया .

थोड़ी दूर जाने के बाद लड़के को एक बड़ा सा कछुआ दिखा जो ड्रैगन बनने की कोशिश कर रहा था। उसने भी लड़के से पूछा तुम कहां जा रहे हो लड़के ने उसे भी कहा कि मैं एक बाबा के पास अपना सवाल का जवाब पाने के लिए जा रहा हूं।तो कछुए ने लड़के से कहा कि तुम उससे मेरा एक सवाल पूछोगे कि मैं ड्रैगन कब बनूंगा। लड़के ने कछुए को (hm) कह कर वहां से चला गया !

जब लड़का बाबा के पास पहुंच गया तो बाबा ने लड़के से कहा ? कि तुम मुझसे कोई तीन सवाल ही पूछ सकते हो।अब लड़का सोच में पड़ गया कि मैं अपना सवाल पूछूं या फिर उन तीन का ??? लड़के ने सोचा कि मैं सवाल तो यह था कि मैं गरीबों से बाहर कब निकलूंगा मेरी समस्या तो बहुत छोटी है मैं फिर तीनो जन का सवाल ही पूछ लेता हूँ!

लड़की ने कछुए का सवाल बाबा से पूछा तो उन्हें कहा कि जब वह अपने कवच से बाहर निकलेगा तब वह ड्रैगन बन जाएगा।

फिर लड़के ने उसे बूढ़े जादूगर का सवाल पूछा तो उन्हें कहा जब वह जादूगर अपने जादू की छड़ी किसी दूसरे को देगा वह स्वर्ग पहुंच जाएगा।

फिर लड़के ने उसे घर के मालिक का सवाल बाबा से पूछा तो उन्हें कहा जब उसकी बेटी की उसका जीवन साथी मिल जाएगा तब वह बोलना शुरू कर देगी।

वाह लड़का इन तीनो का सवाल का जवाब लेकर उसी रास्ते से चला गया जब वाह कछुए से मिला तो कछुए को अपना कवच छोड़ने को कहा?जैसे ही कछुए ने अपना कवच छोड़ा वह ड्रैगन बन गया। कछुए के कवच से बहुत सारे मोती निकले। सारी मोती उसे लड़के को मिल गई।

फिर वाह जादूगर बूढ़े आदमी से मिला जो स्वर्ग जाना चाहता था लड़के ने उसे बूढ़े जादूगर को अपनी छड़ी किसी दूसरे को देने की कही, वाह बूढ़ा आदमी वाह छड़ी लड़के को दे दी!छड़ी देते ही वाह स्वर्ग पाहुंच गया।फिर घर की मालिक की बेटी जो बोल नहीं पा रही थी उसने कहा अपनी बेटी की शादी करा दो वह बोलना शुरू कर देगी।उसने अपनी बेटी की शादी वहां लड़के से ही करा दी और वाह लड़की भी बोलना शुरू कर दी।

कहानी से क्या सीखा | Garib Ki Kahani | Motivational Kahani Hindi

इस कहानी से हमें यह सिख मिलती है कि कुछ पाने के लिए छोड़ना पड़ता है खोना पड़ता है बलिदान देना पड़ता है! जैसे उसे कछुए ने अपना कवच छोड़ा वह ड्रैगन बन गया। वाह जादूगर ने अपनी छड़ी दूसरे को दे दी वाह स्वर्ग पाहुंच गया। घर के मालिक ने बेटी के जीवन साथी को मिलते ही उनकी बेटी बोलना शुरू कर दी!

इस कहानी से सबको कुछ-कुछ मिल गया! लेकिन सबसे ज्यादा उसे लड़के को मिला जो बहुत गरीब था क्योंकि उसने सबसे बड़ा बलिदान दिया था।

Share

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *