Ayodhya Ram Mandir: दान के ब्याज से ही तैयार हुआ राम मंदिर का पहला फ्लोर, अभी तक इतनी मिली समर्पण निधि-Ayodhya Temple

Ayodhya Ram Mandir Recent News in Hindi: प्रधानमंत्री मोदी जी के द्वारा उत्तर प्रदेश के अयोध्या शहर में बन रहे राम मंदिर में भगवान श्री राम जी की मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा वैदिक मंत्रो के साथ साल 2024 में 22 जनवरी के दिन की जाएगी। इस दिन देश और दुनिया भर से कई वीआईपी गेस्ट अयोध्या के मेहमान बनेंगे।

साल 2019 में सुप्रीम कोर्ट का आदेश मिलने के पश्चात जब राम मंदिर के निर्माण के लिए राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र का गठन किया गया तो उसकी तरफ से मंदिर के निर्माण के लिए एक अमाउंट निश्चित कर दिया गया था जिसके लिए दुनिया भर से राम भक्तों के द्वारा ऑनलाइन और ऑफलाइन अपनी समर्पण राशि अर्पित की गई थी, जिसका परिणाम यह हुआ की राम मंदिर के पहले फ्लोर का निर्माण समर्पण राशि में मिले हुए रुपए के ब्याज से ही हो गया।

राम मंदिर के निर्माण के लिए मंदिर कमेटी के द्वारा 900 करोड रुपए का टारगेट रखा गया था और इसके लिए तकरीबन 11 करोड लोगों से दान लेने के बारे में सोचा गया था, परंतु जब मंदिर कमेटी ने दान लेना चालू किया तो टारगेट रकम से ज्यादा पैसा मंदिर कमेटी को श्री राम मंदिर के लिए मिल गया। जानकारी के अनुसार 3200 करोड रुपए समर्पण निधि के तौर पर राम मंदिर कमेटी को मिले और इसके बाद से ही राम मंदिर का पहला फ्लोर बन गया है, जिसका उद्घाटन 22 जनवरी को होगा।

मंदिर निर्माण कमेटी के एक मेंबर के द्वारा जानकारी दी गई है कि, 18 करोड़ लोगों के द्वारा पंजाब नेशनल बैंक, बैंक ऑफ़ बड़ोदा और भारतीय स्टेट बैंक के अकाउंट में तकरीबन 3200 करोड रुपए समर्पण निधि के तौर पर जमा करवाए गए थे। मंदिर कमेटी के द्वारा इन पैसों से बैंक में फिक्स डिपाजिट करवा दिया गया था, जिस पर जो ब्याज मिला था, उससे ही मंदिर के पहले फ्लोर का निर्माण हो चुका है अर्थात मूलधन तो अभी सुरक्षित ही है।

हालांकि अब अन्य काम के लिए मूलधन में से पैसा खर्च करना शुरू कर दिया गया है, परंतु राम मंदिर निर्माण कमेटी को यह भी उम्मीद है कि, जब रामलला की प्रतिष्ठा हो जाएगी तो इसके पश्चात भी समर्पण राशि में काफी ज्यादा इजाफा देखने को मिलेगा, क्योंकि जब राम मंदिर में भक्तों की भीड़ देश और विदेश से आने लगेगी़ तो दान भी भरपूर आएगा, जिससे राम मंदिर के अगर कोई भी विकास के काम बचे हुए होंगे तो उसे पूरा किया जाएगा साथ ही पुजारी को उनकी तनख्वाह भी निश्चित समय पर दी जाएगी। बताना चाहते हैं कि फिलहाल राम मंदिर में विश्राम गृह, चिकित्सालय, भोजनशाला, गौशाला इत्यादि के निर्माण के लिए पैसा खर्च किया जा रहा है।

सम्बंधित खबरे :

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *