Swasthya Sathi Scheme

स्वास्थ्य साथी योजना बंगाल के राज्य सरकार ममता बनर्जी के द्वारा वर्ष 2016 के फरवरी मास में लागू की गई योजना है। यह बंगाल में चल रही एकमात्र स्वास्थ्य बीमा योजना है। जोकि केंद्र सरकार द्वारा लागू की गई आयुष्मान योजना का ही परिवर्तित रूप है। इस आयुष्मान योजना को बंगाल राज्य सरकार ने परिवर्तित कर बंगाल में लागू किया है। अथवा यह भी कहा जा सकता है की आयुष्मान योजना को स्वास्थ्य साथी योजना के अंतर्गत मिलाकर संयुक्त रुप से चलाया जा रहा है। इस योजना के  द्वारा बंगाल के नागरिकों को अपनी व अपने परिवार की चिकित्सा करवा पाने में सहायता प्राप्त होगी। सामान्य तथा गरीब वर्ग भी अपनी चिकित्सा आसानी से किसी भी अस्पताल में करवा सकेंगे। अतः इसीलिए यह योजना बंगाल की जनता के लिए काफी महत्वपूर्ण एवं लाभकारी है। एवं इसलिए यदि आप भी बंगाल के निवासी हैं और पाना चाहते हैं इस योजना का लाभ तो । बंगाल सरकार की इस योजना का लाभ तो इसके विषय में आपको संपूर्ण जानकारी होनी आवश्यक है। तो आइए प्रारंभ करते हैं इसके विषय में विस्तृत जानकारी ओं का सिलसिला।

स्वास्थ्य साथी योजना क्या है | WB Swasthya Sathi Scheme

स्वास्थ्य साथी योजना बंगाल की एक ऐसी योजना है। जिसके अंतर्गत बंगाल की जनता को स्वास्थ्य कवर प्रदान किया जाता है। जैसा कि हमने ऊपर ही पढा कि यह बंगाल सरकार द्वारा प्रसारित योजना है। जिसके अंतर्गत केवल दंपत्ति जोड़ी तथा उनके परिवार को ही नहीं बल्कि उनके माता-पिता को भी लाभान्वित किया जाएगा।एवं   राज्य के स्वास्थ्य मंत्री के अनुसार यह योजना पूरे देश में चलाई जा रही स्वास्थ्य संबंधी योजनाओं से बड़ी है और हितकर भी। क्योंकि अन्य योजनाओं में पुरुष के माता-पिता को तो सम्मिलित किया जाता है।पर स्त्रियों के माता पिता इससे वंचित रह जाते हैं। लेकिन इस योजना के अंतर्गत स्त्री पुरुष के अपने परिवार के अतिरिक्त दोनों के माता-पिता को भी लाभ प्राप्त होता है। वित्त भाग के अंतर्गत योजना में संशोधन के पश्चात यह निर्णय लिया गया है। कि चाहे केंद्र की आयुष्मान योजना हो या राज्य की स्वास्थ्य साथी योजना दोनों योजनाओं के अंतर्गत मिलने वाले लाभ का भुगतान केंद्र सरकार एवं  राज्य सरकार मिलकर  60: 40 के अनुपात में करेगी।

योजना में किए गए संशोधन कार्य:-

ये योजना सरकारी विभाग के अनौपचारिक संविदा कर्मचारियों, वंचित वर्गों के लिए लाभ प्रदान करने वाली योजना थी। एवं इसके अंतर्गत पहले 1.5 लाख रुपए की सहयोग राशि प्रदान की जाती थी। किंतु अब इस योजना में वित्तीय विभाग द्वारा संशोधन कर इस सहायता राशि को बढ़ाकर ₹500000 कर दिया गया है। यह योजना लगभग आयुष्मान योजना के समान ही है। एवं अब इस योजना का लाभ मध्यम वर्गीय परिवारों को भी प्राप्त करवाया जाने लगा है।  जारी किए गए संशोधन पत्र द्वारा यह पता चलता है ।कि राज्यपाल को खजाने की देखभाल के लिए, माध्यमिक के लिए इस सहयोग राशि को बढ़ाकर ₹500000 लाख प्रति वर्ष करने पर प्रसन्नता हुई है।

इस योजना के अंतर्गत बंगाल की लगभग 4.7  करोड़ जनता ने आवेदन कर लाभ प्राप्त किया है। तथा आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत लगभग 1.50 करोड़ लोगोें द्वारा आवेदन किया गया था। जो कि स्वास्थ्य साथी योजना में समायोजित होने के कारण इसी योजना के लाभार्थियों में गीने जाते हैं। अतः कुल मिलाकर बंगाल में स्वास्थ्य बीमा योजना से जुड़ने वाले  6 करोड लोग हैं।

स्वास्थ्य साथी योजना का उद्देश्य बताएं:-

इस योजना का उद्देश्य है कि वर्ष 2025 तक बंगाल की सभी जनता  को जिन्हें नेत्र चिकित्सा की आवश्यकता है। उन्हें चिकित्सा प्राप्त करवा कर नेत्र संबंधित स्वास्थ्य लाभ पहुंचाना। इसके अंतर्गत प्रायः 20 लाख लोगों को निशुल्क मोतियाबिंद के ऑपरेशन एवं चस्मा वितरण किया जाने का निश्चय किया गया है। एवं आवश्यकता होने पर  चार लाख बच्चों के लिए भी निशुल्क चश्मा वितरण का प्रावधान रखा गया है।

योजना के लिए आवेदन करने हेतु पात्रता

१. योजना में संशोधन के पश्चात इसे पश्चिम बंगाल में रहने वाले सभी मध्यम वर्गीय तथा गरीब परिवार को प्रदान किया जाने का निर्णय लिया गया है.

२. किंतु योजना के लिए आवेदनकर्ता किसी अन्य सरकारी स्वास्थ्य योजना के लाभार्थी नहीं होने चाहिए।

स्वास्थ्य साथी कार्ड के लिए आवेदन करने का तरीका | West Bengal Swasthya Sathi Smart Card Apply Online

Swasthyasathi.gov.in की वेबसाइट पर जाकर पंजीकरण हेतु ‘फॉर्म बी फॉर रजिस्ट्रेशन अंडर स्वास्थ्य साथी’के विकल्प को प्रेस कर लें। इसके पश्चात फॉर्म आपके समक्ष खुलकर आएगा। उस फॉर्म को भरकर उसका पीडीएफ डाउनलोड कर प्रिंट निकाल कर योजना संबंधित कार्यालय में जाकर जमा दे दें। इसके पश्चात फॉर्म के सत्यापन आदि की प्रक्रिया पूर्ण हो जाने पर। आपको यह कार्ड प्रदान कर दिया जाएगा।

उपयोगी लिंक | Quick Link 

अधिकारिक वेबसाइट –https://swasthyasathi.gov.in/
लाभार्थी सूची –यहाँ देखें,
हॉस्पिटल लिस्ट –यहाँ देखें,
हेल्पलाइन नंबर –18003455384

By Jitendra Arora

- एडिटर, मोटिवेटर, क्रिएटर | - वेब & एप डेवलपर |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *