[email protected]
July 04, 2022
11 11 11 AM
world_enviroment_day_sant_nirankari_mission.jpg

संत निरंकारी मिशन द्वारा विश्व पर्यावरण दिवस पर चलाया गया स्वच्छता और वृक्षारोपण अभियान

शेयर जरुर करें

काशीपुर 5 जून 2022: विश्व पर्यावरण दिवस में भागीदारी लेने हेतु संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन संत निरंकारी मिशन की सामाजिक शाखा के द्वारा 10000 स्वयंसेवकों के साथ मिलकर देश के 7 राज्यों के 14 पर्वतीय स्थलों पर व्यापक स्वच्छता एवं वृक्षारोपण अभियान का आयोजन आज किया गया। जिसका उद्देश्य सभी को पर्यावरण संकट के प्रति जागरूक होने के लिए प्रेरित करना है। जिन स्थानों पर गर्मियों के मध्य पर्यटकों की भारी भीड़ होती है, उन्हीं स्थानों पर इस अभियान का आयोजन किया गया। वर्तमान समय में हमारी पृथ्वी ग्लोबल वार्मिंग के संकट से जूझ रही है। ऐसे समय में हमें वृक्षारोपण जैसे अभियानों की नितांत आवश्यकता है, ताकि पर्यावरण का संतुलन बनाया जा सके।


इस वर्ष संयुक्त राष्ट्र द्वारा स्वीडन को “Only one earth” शीर्षक 2022 की वैश्विक मेजबानी के रूप में घोषित किया गया है। पर्यावरण संकट के मध्य जहां प्रदूषण से निपटने के लिए पूरी दुनिया एक साथ आ रही है वहां ऐसे समय में संत निरंकारी मिशन के हजारों स्वयंसेवक अपनी खाकी वर्दी और संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन की नीली टी-शर्ट व टोपी में भक्तों एवं संबंधित शहरों के निवासियों संग मिलकर वृक्षारोपण एवं स्वच्छता का अभियान चला रहे हैं, इसके साथ ही जागरूकता हेतु मानव श्रृंखला का भी निर्माण किया गया। इन सभी 14 स्थलों उत्तराखंड में नैनीताल, मंसूरी, ऋषिकेश लैंसडाउन में, हिमाचल प्रदेश में शिमला, महाराष्ट्र में महाबलेश्वर,पंचगनी, खंडाला,लोनावाला और पन्हाला, गुजरात में सपुतारा, कर्नाटक में नंदी हिल्स, राजस्थान में माउंट आबू और सिक्किम में गंगटॉक जैसे स्थानों पर प्रातः 8:00 बजे से अभियान का आरंभ हुआ। जिसमें सभी स्वयंसेवक एकत्रित हुए और दोपहर 12:30 बजे तक इसका समापन हो गया। अभियान से पूर्व कार्यक्रम की शुरुआत प्रार्थना से आरंभ हुई। मिशन के युवा स्वयंसेवकों द्वारा प्लास्टिक प्रदूषण की थीम पर नुक्कड़ नाटकों का आयोजन भी किया गया। और लोगों को पर्यावरण संकट के प्रति जागरूक किया। नो प्लास्टिक यूज/बीट एयर पोलूशन/स्वच्छता और वृक्षारोपण के इस संदेश पर जोर देने के लिए अधिकतर स्वयंसेवकों ने तख्तियां एवं बैनर का उपयोग मानव श्रृंखला बनाने में किया। कार्यक्रम में उपस्थित सभी प्रतिभागियों ने पर्यावरण संरक्षण हेतु शपथ ली। ज़ोनल इंचार्ज राज कपूर जी (जसपुर ) एवं पूज्यनीय पी०एस०चौधरी जी (चमोली) द्वारा मुख्य अतिथि के रूप में नैनीताल विधायक सरिता आर्या एवं संत निरंकारी मंडल केंद्रीय सेवा दल के मुख्य संचालक पूजनीय ओ०पी० निरंकारी जी सहित सभी सेवादारों का धन्यवाद करते हुए अहम भूमिका निभाई। विधायक सरिता आर्या जी ने निरंकारी मिशन के प्रति “विश्व पर्यावरण दिवस” पर आभार व्यक्त किया। काशीपुर से निरंकारी सेवादल के लगभग 125 से अधिक भाई बहनों ने नैनीताल पहुंचकर विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर संचालक प्रवीन अरोरा, सहा० संचालिका मुन्नी चौधरी ने अन्य अधिकारियों एवं सेवादल के साथ मिलकर इस अभियान में उत्साह पूर्वक सेवा करके आनंद प्राप्त किया।


संत निरंकारी मिशन 2014 से ही संयुक्त राष्ट्र के पर्यावरण कार्यक्रम की थीम पर विश्व पर्यावरण दिवस मना रहा है।


अन्य गतिविधियां
निरंकारी मिशन निरंतर आध्यात्मिक जागृति के साथ-साथ मानवता की सेवा में भी स्वयं को प्रतिपल समर्पित कर रहा है। वर्तमान में मिशन देश के अग्रणी रक्तदान करने वाले स्वयंसेवी संगठनों में से एक है सन 1986 से लेकर अब तक 7225 रक्तदान शिविर लगाए जा चुके हैं, और 12 लाख यूनिट रक्तदान किया जा चुका है।
मानव कल्याण हेतु संत निरंकारी मिशन द्वारा देश भर में 4 अस्पताल, 102 औषधालय, और 4 रोग प्रयोगशाला चल रही है। जो धर्मार्थ के लिए कार्यरत हैं। इसके अतिरिक्त 4 अस्पताल दिल्ली, कोलकाता, चेन्नई और आगरा में स्थित है। जबकि औषधालय समूचे देश में व्याप्त है! लोक कल्याण पर आधारित सेवाएं जैसे मोतियाबिंद सर्जरी, स्वास्थ्य जांच, ह्रदय जांच, एनीमिया नियंत्रण आदि के लिए शिविर भी आयोजित किए जाते हैं! जिनसे आर्थिक रूप से पिछड़े वर्गों के 20 लाख से अधिक लोग हर वर्ष इलाज करवा कर लाभान्वित हो रहे हैं! रक्त की आपूर्ति करने के लिए मिशन का प्रथम ब्लड बैंक मुंबई के विले पार्ले में स्थित है!


कल्याणकारी गतिविधियों के अंतर्गत संत निरंकारी मिशन द्वारा दिल्ली एवं देश के अन्य हिस्सों में 2 कालेज और 18 स्कूल चलाए जा रहे हैं। महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने के लिए विधवाओं और अन्य जरूरतमंद महिलाओं के लिए 45 सिलाई सेंटर और कढ़ाई प्रशिक्षण केंद्र भी चलाए जा रहे हैं। संगीत कंप्यूटर प्रशिक्षण और संचार कौशल जैसे विभिन्न व्यवसायिक पाठ्यक्रमों के माध्यम से भी सशक्त बनाया जा रहा है। संत निरंकारी मिशन द्वारा दशकों से वृक्षारोपण और स्वच्छता अभियान का आयोजन किया जा रहा है। मिशन द्वारा प्रत्येक वर्ष 23 फरवरी को बाबा हरदेव सिंह जी के जन्मदिवस पर वृक्षारोपण और स्वच्छता अभियान आयोजित करके अपना महत्वपूर्ण योगदान देता रहा है। यह समस्त जानकारी स्थानीय काशीपुर ब्रांच मीडिया प्रभारी प्रकाश खेड़ा द्वारा दी गई।


शेयर जरुर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.