रक्त नालियों में नहीं बल्कि नाड़ियों में बहना चाहिए

22 मई 2022 गढ़ीनेगी सतगुरु माता सुदीक्षा जी महाराज के पावन आशीर्वाद से ब्रांच गड़ीनेगी में संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन (संत निरंकारी मिशन का सामाजिक विभाग)द्वारा ब्लड बैंक की मांग पर रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया! जिसमें संत निरंकारी मिशन ब्रांच गड़ीनेगी, काशीपुर यूनिट नं 180 एवं स्थानीय श्रद्धालुओं , भक्तों एवं सेवादारों द्वारा निस्वार्थ भाव से रक्तदान किया जा रहा है। इस आयोजन के अंतर्गत लगभग 66 श्रद्धालुओं एवं सेवादारों द्वारा रक्तदान किया गया रक्त एकत्रित करने हेतु एल डी भट सरकारी अस्पताल के ब्लड बैंक की टीम के लगभग 10-11 सदस्य श्री जोगा सिंह, शैलेश ठाकुर, श्वेता, नज़ीम, कपिल चंद्रा, सरिता ठाकुर, प्रशांत, विपिन, मीनू कुमारी, मनु पांडे इत्यादि सम्मानित स्वास्थ्य विभाग के सदस्य उपस्थित रहे।


इस शिविर का उद्घाटन सत्कार योग जोनल इंचार्ज राज कपूर जी के कर कमलों द्वारा किया गया। इस अवसर पर मौजूद स्थानीय मुखी श्री विजय सुधा, संचालक श्री जसवीर सिंह जी, संचालक प्रवीण अरोड़ा काशीपुर,इत्यादि अनेक संतों ने उपस्थित रहकर रक्त दाताओं की हौसला अफजाई की। स्थानीय नगर वासियों द्वारा भी इस अवसर पर वहां पहुंचकर रक्तदान शिविर के साथ-साथ निरंकारी संत समागम का भी भरपूर आनंद लिया। विशाल सत्संग का आयोजन भी प्रातः 10:00 बजे से प्रारंभ कर दिया गया जिसमें स्थानीय जोनल इंचार्ज स्थानीय मुखी श्री विजय सुधा द्वारा सभी रक्त दाताओं का हृदय से आभार व्यक्त किया गया। और उन्होंने बताया कि मिशन द्वारा प्रथम रक्तदान शिविर का आयोजन दिल्ली में वर्ष 1986 के नवंबर माह में वार्षिक निरंकारी संत समागम के अवसर पर किया गया जिसमें बाबा हरदेव सिंह जी ने इस शिविर का उद्घाटन किया और मानवता को यह संदेश दिया कि रक्त नालियों में नहीं बल्कि नाड़ियों में बहना चाहिए। संत निरंकारी मिशन के सेवादार इस संदेश को चरितार्थ करते हुए दिन रात मानव मात्र की सेवा में तत्पर हैं। विशेष रूप में कोरोना महामारी की विषम परिस्थितियों में भी जन कल्याण के लिए निस्वार्थ भाव से सेवाएं की गयी है! मिशन के द्वारा समय-समय पर निस्वार्थ भाव से सेवाएं की जा रही है और निरंतर जारी है। पिछले माह की 24 अप्रैल विशाल रक्तदान शिविर लगभग 272 स्थानों पर लगाए गए थे। जिसके अंतर्गत लगभग हजारों की संख्या में लोगों ने रक्तदान दिया।
निरंकारी मिशन द्वारा जन हित के हेतु समय-समय पर अनेक सेवाएं की जाती रही है।जैसे स्वच्छता अभियान वृक्षारोपण निशुल्क चिकित्सा परामर्श केंद्र, निशुल्क नेत्र शिविर, प्राकृतिक आपदाओं में जरूरत मदों की सहायता इत्यादि सेवा के कार्य समाज सेवा के लिए हमेशा किए जाते रहे हैं। और इन सभी सेवाओं के लिए राज्य सरकारों और केंद्र सरकार के द्वारा समय पर समय पर सराहा एवं सम्मानित भी किया गया है। यह समस्त जानकारी स्थानीय काशीपुर मीडिया प्रभारी प्रकाश खेड़ा द्वारा दी गई।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *