हम प्यार और नम्रता को अपनाकर जीवन जीयें -एच० एस० चावला

काशीपुर 16सित०2023 आज काशीपुर संत निरंकारी सत्संग भवन पर निरंकारी मिशन के महान संत एच०एस०चावला जी (मेंबर इंचार्ज, ब्रांच एडमिनिस्ट्रेशन) की हजूरी में एक विशाल संत समागम हुआ! सैकड़ो की संख्या में उपस्थित श्रद्धालु भक्तों के जन समूह के चेहरे पर भरपूर उत्साह देखने को मिला। निरंकारी भवन पर अनेक संत महापुरुषों ने अपने विचार व्यक्त किये।

और सतगुरु माता सुदीक्षा जी महाराज की सिखलाइयों पर प्यार और नम्रता के साथ रहकर भक्ति को अपने जीवन में उतारने के प्रेरणादायक वचन कहे। जोनल इंचार्ज राज कपूर, रुद्रपुर संयोजक सुरेंद्र सिंह, बाजपुर संयोजक बलदेव सिंह, गदरपुर मुखी नारंग जी, ठाकुरद्वारा मुखी गुप्ता जी, रुद्रपुर से सुरेंद्र चावला जी, गढ़ीनेगी मुखी विजय सुधा एवं अनेक संतों ने इस अवसर पर पहुंचकर शोभा बढ़ाई। सत्कार योग चावला जी के साथ आए हुए संत हाकम चंद जी ने भी मिशन के सिद्धांतों पर चलने की बात पर जोर दिया।

अपने प्रवचनों में लुधियाना से आये पूज्य एच० एस०चावला ने इस बात पर भी जोर दिया कि जो गुरु के दर पर खाली आते हैं वह यहां से झोलियां भरकर जाते हैं और जो भर कर आते हैं वह खाली हो जाते हैं वह कुछ भी हासिल नहीं कर पाते। हमने सतगुरु की सेवा निस्वार्थ भाव से करते हुए सतगुरु के वचनों को मानकर ही चलना है। एक दृष्टांत देते हुए उन्होंने प्रेरणा दी कि एक बच्चा जिसको कि मेडल मिलना था और बच्चों को भी जब मैडल मिल रहा था तो वह मेडल देने वाले से हाथ मिला रहे थे लेकिन जब उस बच्चे को मेडल दिया जाने लगा तो उस बच्चे ने मेडल देने वाले के पहले चरणों को स्पर्श किया। उसके बाद उस बच्चे से मेडल देने वाले ने पूछा कि आपको यह तालीम कहां से मिली? तब उसे बच्चे ने उत्तर दिया कि यह तालीम मेरे सतगुरु निरंकारी बाबा जी से मुझे प्राप्त हुई। कहने का तात्पर्य यही रहा कि हमने अपने सतगुरु की सिखलाइयों पर अमल करना है।
सत्कार योग चावला जी के आगमन पर जोनल इंचार्ज राज कपूर, पूज्य राजेंद्र अरोड़ा (इंचार्ज काशीपुर) संचालक प्रवीण अरोड़ा, सह संचालिका मुन्नी चौधरी , श्री मनोज सचदेवा, शिक्षिका सुनीता खेड़ा शिक्षक विनोद चड्ढा,सहायक शिक्षिका रीटा जी द्वारा अगुवाई की गई।


प्रथम बार काशीपुर आगमन पर सत्संग की अध्यक्षता करते हुए मेम्बर इंचार्ज चावला जी ने स्थानीय संत जनों को सतगुरु माता जी के संदेशों पर चलने की प्रेरणा दी। और अक्टूबर माह में 76 वें निरंकारी मिशन के वार्षिक संत समागम के लिए भी सभी को प्रेरित किया।


अंत में स्थानीय इंचार्ज राजेंद्र कुमार अरोड़ा जी द्वारा आए हुए महात्माओं का धन्यवाद किया गया। और इसी आशीर्वाद की अभिलाषा की गई कि हम निरंतर भक्ति के मार्ग पर प्यार और नम्रता के साथ मिलजुल कर आगे बढ़ते चले जाएं। सत्संग के पश्चात गुरु के लंगर की भी सेवा दल के द्वारा सुंदर व्यवस्था की गई।यह समस्त जानकारी स्थानीय निरंकारी मीडिया प्रभारी प्रकाश खेड़ा द्वारा दी गई।

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *