Pradhan Mantri Ujjwala Yojana

उज्जवला योजना की विस्तृत जानकारियां –

उज्जवला योजना प्रधानमंत्री द्वारा बनाई गई योजना है। जिसे उन्होंने देश की स्त्रियों को स्वच्छ परिवेश में भोजन बनाने की सुविधा देने के उद्देश्य से आरंभ किया था। विश्व स्वास्थ्य संस्था के अनुसार भी लकड़ियों तथा अन्य धुआं युक्त पदार्थों पर पकाए जाने वाला भोजन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। क्योंकि ऐसे भोजन में धुआं भी प्रवेश कर जाता है। और इसलिए ऐसे भोजन को खाना लगभग 400 सिगरेट के धुएं लेने के बराबर है। Pradhan Mantri Ujjwala Yojana (PMUY) योजना का प्रारंभ हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने 1 मई 2016 मैं पेट्रोलियम तथा प्राकृतिक गैस मंत्रालय के तत्वावधान में बिहार के एक बलिया जिला नामक स्थान से किया था। आगे की कड़ी में हम इसके विषय में विस्तार से जानेंगे। तो आइए शुरू करते हैं।

क्या है यह उज्ज्वला योजना:-

उज्जवला योजना महिलाओं को लकड़ी कोयले आदि के धुओ से बचाने के लिए प्रदान की जाने वाली एक गैस कनेक्शन की योजना है। जिसमें भारत की महिलाओं को फ्री गैस कनेक्शन की सुविधा प्रदान की जाती है।

उज्वला योजना प्राप्त करने के लिए क्या क्या शर्तें हैं:-

इस योजना का लाभ पाने के लिए कुछ पात्रताएं जरूरी है। जैसे कि-

१. उज्जवला योजना के लाभ प्राप्ति की इच्छुक स्त्रियों की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी आवश्यक है।

२. तथा इसके लिए उनके पास आधार कार्ड और बीपीएल कार्ड भी होने चाहिए।

३. गरीबी रेखा के अंतर्गत आने वाले परिवारों को सरकार इस योजना के अंतर्गत आर्थिक सहायता भी प्रदान करती है। जिसमें प्रीति गैस 16 सौ रुपए की सहायता दी जाती है।

४. सरकार द्वारा प्रदत आर्थिक सहायता में गैस कनेक्शन की सारी चीजें सिलेंडर ,प्रेशर रेगुलेटर, सेफ्टी हाउस ,बुकलेट, वगैरह सारी चीजों की व्यवस्था हो जाती है। लेकिन लाभार्थियों को गैस का चूल्हा स्वयं ही लेना होता है।

५. इस गैस कनेक्शन को प्राप्त करने वाले लोगों की पहचान 2011 में हुई जनगणना के अनुसार सरकार को होती है।

उज्जवला योजना के लाभ :-

इस योजना के कई लाभ हैं। जोकि इससे जुड़ने वाले तथा इसका लाभ लेने वाले व्यक्तियों को भली-भांति ज्ञात होगा।

१. पहला लाभ तो इसका यह है कि देश की महिलाओं को धुए से राहत मिलती है। उन्हें धुएं में भोजन पकाने को विवश नहीं होना पड़ता।

२ इसका दूसरा लाभ है पूरे परिवार को धुएं से ही मुक्ति नहीं मिलती केवल बल्कि धुएं से विषैले हुए भोजन खाने से भी बचते हैं। जो हमारे अच्छे स्वास्थ्य के लिए बड़ा ही महत्वपूर्ण है।

३ गरीब परिवारों खास कर के स्त्रियों के लिए यह योजना एक वरदान ही है मानो। इसमें स्वयं अधिक खर्च उठाने नहीं पड़ते हैं सरकार के द्वारा ही इतनी राशि दे दी जाती है जिससे आप इसका लाभ ले सके।

४. जब धुएं वाले इंधन के प्रयोग बंद होंगे तो पूरे परिवार को इसका लाभ मिलेगा स्वास्थ्य सुधार होगा। प्रदूषित धुएं में पके भोजन को ग्रहण करने से होने वाली मृत्यु में कमी आएगी।

५. तथा इस योजना से चुल्हे धरने पर होने वाले वायु प्रदूषण भी रुक जाएंगे। इससे वायु प्रदूषण में कुछ प्रतिशत ही सही कमी आएगी।

६. इस कोरोना काल के बंदी वाले इस कठिन दौर में प्रधानमंत्री जी ने पूरे 2021 और 2022 तक इस योजना में फ्री गैस वितिरण का निर्णय किया है।

७. यह योजना अभी भी अपने उद्देश्य के लिए कार्यरत है। तथा अब तक भारत के 715 जिलों को इसका लाभ प्रदान किया जा चुका है। और आप भी ले सकते हैं इसका लाभ।

PMUY का लाभ लेने के लिए जरुरी दस्तावेज़ :-

१. इसका लाभ लेने के इच्छुक व्यक्ति के पास पंचायत क्षेत्र में होने पर ग्राम पंचायत द्वारा या फिर नगर क्षेत्र के निवासी होने पर (chairman) नगर पालिका द्वारा प्रदत( BPL card) होना अनिवार्य है।

२. तथा जो परिवार के मुख्य सदस्य हैं उनके नाम पर(BPL card) गरीबी रेखा के अंतर्गत वाला राशन कार्ड होना चाहिए।

३. इसके अलावा इसके लाभ लेने के इच्छुक महिला की सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त अपनी कोई फोटो आईडी भी होनी चाहिए।

४. साथ ही उनके पास राजपत्रित (gazetted officer) द्वारा सत्यापन (verified) किया हुआ। स्वघोषणा पत्र भी होने आवश्यक हैं।

५. तथा 2011 में हुई जनगणना में उनका नाम भी दर्ज होना चाहिए।

PMUY योजना का आवेदन कैसे करें

१.उज्जवला योजना (free gas connection) के लिए आवेदन करने हेतु सर्वप्रथम आपको केवाईसी फॉर्म लाकर। उसे भरकर किसी समीप के LPG केंद्र में जाकर जमा देना होगा। यह फाॅम प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की वेबसाइट पर जाकर डाउनलोड करके भी निकाला जा सकता है। तथा किसी एलपीजी केंद्र से भी लिया जा सकता है।

२. तथा इसके लिए केवाईसी फॉर्म के साथ उपरोक्त बताए गए दस्तावेज तथा महिला का नाम,पता, उसके जनधन खाते का नंबर तथा आधार कार्ड नंबर आवश्यक होते हैं ।अतः इन्हें भी फॉर्म के साथ जमा करना होता है। अथवा फाॅम में भरना होता है।

३. इसके साथ ही फॉर्म जमा करते वक्त यह जानकारी भी देनी होगी कि आप 5 किलो ग्राम वाला गैस कनेक्शन चाहते हैं अथवा 14 किलो 200 ग्राम का गैस कनेक्शन लेना चाहते हैं।

उज्ज्वला योजना फॉर्म

PM Ujjwala Yojana का लाभ लेने के लिए आपको फॉर्म की आवश्यकता होती है | इन फॉर्म को आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करकर डाउनलोड कर सकते हैं :

उज्ज्वला योजना हेल्पलाइन नमबर | PMUY Helpline Number

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना से संबंधित किसी भी प्रकार की समस्या का के समाधान क एलिए आप आप इनके हेल्पलाइन नंबर पर कांटेक्ट कर कर सकते हैं।

  • हेल्पलाइन नंबर – 1906 और  18002333555

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के विस्तार के लिए सरकार ने क्या निश्चय किया है:-

इस योजना का विस्तार करने के लिए प्रधानमंत्री जी ने निर्णय लिया है कि 2021 से 2022 तक इस योजना से और 1 लाख व्यक्तियों को जोड़ा जाएगा। उनके इस निर्णय की जानकारी वीत्त मंत्री ने बजट पेश करते वक्त घोषणा करके दी।

उज्जवला योजना के विषय में कैग का कहना है:-

हालांकि इस योजना में समाज के कुछ घोटाले करने वाले लोगों के शामिल होने की आशंका जताई है ( कैग ) इस योजना के कार्यभार को संभालने वाले तथा महा लेख के परीक्षकों ने। क्योंकि उनके शोध के अनुसार 199000 परिवारों के लोगों द्वारा प्रतिवर्ष 12 गैस सिलेंडरों से भी अधिक सिलेंडरों की बिक्री कर दी जा रही है। जोकि गरीबी रेखा के स्तर मेंआने वाले लोग ऐसा नहीं कर सकते।

उपयोगी लिंक

सरकारी योजनायेंहोम जॉब्सपैसे कमाने वाले एप
मोटिवेशनलफुल फॉर्मबैंक लोन
ऑनलाइन जॉब्सस्वास्थ्य टिप्सबिजनेस आईडिया

By Jitendra Arora

- एडिटर, मोटिवेटर, क्रिएटर | - वेब & एप डेवलपर |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *