Girls Life in India

एक लड़की की ज़िन्दगी क्या होती है? अपनी जिंदगी का सफर कैसे तय करती है? जन्म से लेकर मृत्यु तक कितना कुछ सहती है | जब किसी के घर में बेटी का जन्म होता है तो कोई ज्यादा खुश नहीं होता | लेकिन जब घर में बेटे का जन्म होता है तो बहुत खुशियां मनाई जाती है | ऐसा क्यों सिर्फ सोच का फर्क है | एक बेटी को हम बेटा बुला सकते हैं लेकिन एक बेटे को एक बेटी नहीं बुला सकते | बचपन से लड़कियों को सिखाया जाता है कि सिर्फ चूल्हा चौका और घर संभालने के लिए बनी है | अगर कोई लड़की ज्यादा पढ़ना चाहे या फिर जॉब करना चाहे यह कहकर मना कर दिया जाता है की ज्यादा पढ़ लिख कर क्या करोगी, तुम्हें फिर भी घर संभालना है |

क्या लड़कियों के कोई सपने नहीं होते? क्या उनकी कोई फीलिंग नहीं होती? लड़कियों पर इतनी पाबंदी क्यों होती है? क्या सिर्फ लड़के अपने पेरेंट्स का नाम रोशन कर सकते हैं? लड़कियां भी तो कर सकती है | हमारे समाज के ऐसी छोटी सोच क्यों है लड़का और लड़की दोनों एक समान है | लेकिन आज भी हमारे समाज में ऐसे बहुत से लोग हैं, ऐसे बहुत से परिवार है जहां हमेशा लड़कियों को गलत समझा जाता है | जहां लड़का और लड़की में अंतर किया जाता है। एक लड़की अपनी मर्जी से शादी करें अपना पार्टनर चुने तो यह गलत है, लेकिन लड़का अपनी मर्जी से शादी करें तो सही है

आखिर ऐसा क्यों है सबको अपने जिंदगी जीने का हक है फिर सारी पाबंदियां लड़कियों पर ही क्यों? सारी गलती लड़कियों की क्यों निकाली जाती है | आखिर वो भी तो इंसान है उससे भी जीने का हक है |

बचपन से लड़कियों को सिखाया जाता है की तुम तो पराई हो | उन्हीं के घर में उन्हें नहीं समझा जाता पहले घरवालों की सुनती है | शादी के बाद ससुराल वालों की आखिर हर बार एक लड़की ही गलत क्यों होती है |  एक लड़की भी तो पढ़ लिखकर अपने माता पिता का नाम रोशन कर सकती है | फिर उन्हें मौका क्यों नहीं दिया जाता | अपने परिवार वालों की खुशियों के लिए अपने सपनों को मार देती है ऐसी होती लड़कियों ।

बड़ी बड़ी मुसीबतों का सामना डटकर करते हैं। हर लड़की की कुछ सपने होते है लेकिन किसी को उसके सपने दिखाई क्यों नहीं देते।
आज के समय में लड़कियां लड़कों से आगे है जो घर भी संभालती है और काम भी करती है | लेकिन वही हमारे समाज में ऐसी बहुत से लोग हैं
जिनकी सोच आज भी यही है लड़कियां सिर्फ घर के काम और शादी के लिए बनी है | एक लड़की की लाइफ बहुत संघर्ष पूर्ण होती है, वह अपनी लाइफ में बहुत कुछ सहती है। एक लड़की क्या चाहती है सिर्फ इतना ही की उन्हें समझा जाए उन्हें सपोर्ट किया जाए और उनके सपने पूरे करने में उनकी मदद की जाए। उनका सम्मान किया जाए |

इस दुनिया में सबसे ज्यादा शक्तिशाली और सबसे ज्यादा सहनशील एक लड़की होती है। आखिरकार इस समाज की सोच कब बदलेगी? आखिर कब एक लड़की अपनी मर्जी से अपनी जिंदगी जी पाएगी आखिर उसे कब समझा जाएगा | वो एक लड़की ही होती है जो कि परिवार वालों की खुशियों के लिए अपने सपने कुर्बान कर देती है। बचपन में भेद-भाव और ससुराल में ताने और मार- पीठ कितना कुछ सहती हैं ।
कई लड़कियां देहज के कारण मार दी जाती है

अगर कोई लड़की अपने सपने पूरे करना चाहतीं हैं तो उसे ये कह कर चुप करा दिया जाता है कि लोग क्या कहेंगे | समाज क्या कहेगा पर अगर कोई लड़का किसी लड़की के साथ कुछ गलत करता है तब ये समाज कहां जाता है? तब कोई नहीं कहता कि ये गलत है इसमें भी लड़कियों को गलत समझा जाता है। अक्सर सबको लड़कियों की गलती दिखाई देती है लेकिन लड़कों की नहीं चाहे वह कुछ भी करें
हमारे समाज में ऐसा क्यों है ? क्यों हमारे समाज के लोगों की सोच ऐसी है लड़की को हमेशा गलत समझा जाता है| और एक लड़के को हमेशा सही समझा जाता है|  लड़की अपनी पसंद से शादी करना चाहे तो उसे डरा दिया जाता है, कि समाज क्या कहेगा | हर रोज उसे एहसास दिलाया जाता है कि तुम एक लड़की हो तुम यह नहीं कर सकती, तुम सो नहीं कर सकती | क्योंकि तुम एक लड़की हो | आखिर क्यों क्या लड़की होना गलत है आखिर ऐसा क्यों है ?

लड़कों को हमेशा हर चीज के लिए बढ़ावा दिया जाता है, क्योंकि वो लड़के होते हैं उन्हें हर चीज की आजादी होती है |और हम लड़कियों की आधी जिंदगी किसी चीज की परमिशन लेना में गुजर जाती है | क्यों ये दुनिया ये समाज नहीं समझता कि हर बार एक लड़की गलत नहीं होती एक बार उन्हें समझ कर तो देखो खुद को उनकी जगह रख कर तो देखो तब पता चलेगा की लड़की होना आसान नहीं होता।

हमारे देश में महिला सशक्तिकरण के लिए बहुत सारे कानून और योजनायें चलाई जाती हैं | लेकिन हकीकत में आज भी लड़कियों या महिलाओं के साथ भेदभाव किया जाता है |

अगर देश का विकास करना है तो लड़कियों को लड़कों के बराबर का हक देना होगा | उन्हें आगे बढ़ाने के लिए सोच बदलनी होगी | शिक्षा का विस्तार करना होगा | घर की महिलाओं को भी अपनी बेटियों को आगे बढ़ने के लिए सपोर्ट करना होगा |

उपयोगी लिंक

सरकारी योजनायेंहोम जॉब्सपैसे कमाने वाले एप
मोटिवेशनलफुल फॉर्मबैंक लोन
ऑनलाइन जॉब्सस्वास्थ्य टिप्सबिजनेस आईडिया

By Jitendra Arora

- एडिटर, मोटिवेटर, क्रिएटर | - वेब & एप डेवलपर |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *