अनुप्रिया वर्मा, मुंबई। अगर आप ये सोचते हैं कि जहाज में जूता चला कर कपिल शर्मा ने जब सुनील ग्रोवर से ‘दुश्मनी’ मोल ले ली थी उसके बाद से ही उनके ‘द कपिल शर्मा शो’ की रेटिंग पर बाबा जी का ठुल्लू लग गया, तो ऐसा नहीं हैं। ये मसाला क्रिकेट यानि आईपीएल का पराक्रम है, जिसने कॉमेडी की तरफ दर्शकों का ध्यान थोड़ा कम कर दिया है लेकिन मुंह पूरी तरह मोड़ा नहीं।

कपिल शर्मा के शो को 23 अप्रैल को एक साल पूरे हो रहे हैं। पिछले कुछ समय से इस तरह की ख़बरें आ रही थीं कि सुनील ग्रोवर का साथ छूट जाने पर कपिल शर्मा के शो पर संकट आया है। कई सारे सवालों के जवाब के लिए जागरण डॉट कॉम ने इस पूरे प्रकरण की पड़ताल की कोशिश की तो, कुछ दिलचस्प पहलू सामने आये हैं।
टेलीविजन पर दिखने वाले कंटेंट को दर्शकों के नजरिये से मूल्यांकन करने वाली संस्था बीएआरसी (बार्क) के आंकड़ों के मुताबिक कपिल के शो की टीवी व्यूअरशिप सुनील ग्रोवर काण्ड से पहले से ही कम हो गई थी। और सुनील और बाकी कलाकारों के शो छोड़ने के बाद शो की व्यूअरशिप में मार्जिनल फर्क ही आया है लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स में ये खबरें बिना किसी फैक्ट्स के वायरल हो रही हैं कि सुनील की वजह से कपिल के शो को बड़ा नुकसान हुआ है। जबकि इससे जुड़े विशेषज्ञों का भी मानना है कि किसी के शो छोड़ने से ( इस मामले में सुनील , अली और चन्दन ) शो की व्यूअरशिप पर इतना बड़ा फर्क नहीं आता है। बार्क के आंकड़ों के मुताबिक सुनील के एग्जिट से पहले शो 15 नंबर पर था, जबकि एग्जिट के बाद शो 13 वें नंबर पर आ गया है. लेकिन यह एक मार्जिनल ड्राप ही है। बार्क के इन आंकड़ों पर आप यहां नज़र डाल सकते हैं 
इस बारे में जब हमने क्रोम डाटा analytics के CEO पंकज कृष्णा से बातचीत की, तो पंकज ने बताया कि यह सच है कि सोनी टीवी की व्यूवरशिप में कपिल के शो की लांचिंग के बाद 2016 से वाकई बड़ा बदलाव आया है।उस वक़्त सोनी की रैंकिंग 7-8वे जेनर में होती थीं लेकिन शो की लांचिंग के बाद वीकेंड में 1-2 नंबर पर आ गई। पंकज ने बताया कि एक चौंकाने वाली ये बात भी जरूर है कि सुनील की लोकप्रियता जिस तरह से बढ़ी, उसके बाद लगातार दर्शकों का जो टाइम स्पेंड होता था, वह कपिल के शो की ओपनिंग और एंड कपिल ही करते थे. लेकिन इसके बावजूद उस वक़्त भी सुनील के स्क्रीन अपीयरेंस पर दर्शक अधिक टाइम स्पेंड करते थे। पंकज कहते हैं कि सच यह है कि जितने प्रतिशत लोग शो देख रहे थे, अब भी उतने ही देख रहे हैं, लेकिन अब लॉयल्टी में फर्क आया है। कहने का मतलब है कि तब लोग एक घंटे पूरा शो देखते थे, तो अब आते-जाते देख रहे हैं। रेटिंग चूंकि इस तरह काउंट होती है कि अगर किसी दर्शक ने एक मिनट तक शो देख लिया था, तो वह रेटिंग का हिस्सा हो जाएगा।उनके अनुसार कपिल के शो के साथ कुछ दर्शक लॉयल नहीं रहे हैं लेकिन उनका मानना है कि इसकी एक बड़ी वजह आई पी एल भी हो सकती है। ये पहले भी देखा गया है कि आई पी एल के वक़्त फिल्म और टीवी दोनों पर ही फर्क पड़ता है। पंकज ने यह भी बताया कि अगर इस तरह से किसी शो की रेटिंग में ड्राप आता है तो इससे रेवेन्यु पर ओवर ऑल फर्क तो पड़ता है लेकिन इस वक़्त दर्शकों की सिम्पैथी सुनील के साथ है और इसका फ़ायदा सुनील को होगा। लेकिन इसके आधार पर आप यह आश्वस्त होकर यह नहीं कह सकते कि सुनील अगर नया शो लेकर आते हैं तो वह कामयाब हो ही जाएगा। कपिल पहले भी एंटरप्रोनर थे और उन्होंने शो की टीम बनायीं थी। ऐसे में सुनील कपिल की तरह एक बड़े ब्रांड (ब्रांड endorsment) के लिहाज से बनेंगे या नहीं. यह पूरी तरह से सुनील पर निर्भर करता है। अगर वह शो लेकर आते हैं तो वह अपने किरदार मशहूर गुलाटी को ही लोकप्रिय बनाते हैं या खुद के नाम को।
इस बारे में lodestar UM के सीनियर वाइस प्रेजिडेंट दीपक का मानना है कि सोनी टीवी के शो सीआइडी और क्राइम पेट्रोल हमेशा से सबसे लोकप्रिय शो रहे हैं। जहां तक इस शो की बात है तो सच यह भी है कि अभी आइपीएल पर पूरा ध्यान दिया जा रहा है। मुख्य फोकस अभी यही है। ऐसे में यह कहना कि किसी एक कलाकार की वजह से रेटिंग में बहुत ड्राप हो गया है, गलत होगा। दीपक का मानना है कि कपिल के शो को आप सेचुरेशन पॉइंट की तरह भी देख सकते हैं कि हर किसी के साथ होता है कि एक दम से शो हिट हो, लेकिन एक वक़्त के बाद अगर आप एक्सपेरिमेंट नहीं करते हैं , गिरावट आने लगती है। उन्होने कहा कि ” मुझे नहीं लगता की लार्ज प्रोपोर्शन में ऐसा हुआ है और रेवन्यू में बिल्कुल एकदम से बड़ा फर्क आयेगा। मेरा मानना है कि हां सुनील शो को दिलचस्प बनाते हैं लेकिन रिवेन्यू और व्यूवरशिप के लिए बहुत सारे फैक्टर्स होते हैं। एक वक़्त में जब कलर्स पर कपिल का शो आता था और सुनील वहां नहीं थे, तब भी रेटिंग पर बड़ा फर्क नहीं आया है।”
दीपक कहते हैं ” मैं कंटेंट का स्पेस्लिस्ट नहीं हूं, फिर भी मैं गेस करके बता रहा हूं कि सोनी के पास दोनों ऑप्शन है। वह इसी शो को फिर से मॉडिफाई कर सकते हैं। कपिल के शो के पास जैसे फिक्स्ड ऑडियंस हैं वैसे अभी किसी चैनल पर नहीं हैं।” कपिल के शो में सुनील ग्रोवर की वापसी और उनके दूसरा शो शुरू करने की खबरें लगातार आती रही हैं। खबरें यहां तक आने लगीं कि सोनी टीवी कपिल के साथ दोबारा कॉन्ट्रेक्ट रीन्यू करने के मूड में भी नहीं है। लेकिन अभी तक किसी भी तरह की कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है।कपिल इन दिनों अपनी फिल्म फिरंगी बना रहे हैं लेकिन शो में नए पुराने कलाकारों को जोड़ कर शो को लोकप्रिय बनाये रखने में लगे हैं। देखना है कि आखिर कितने समय तक क्रिकेट और पुरानी दोस्ती उनकी ‘दुश्मन’ बन इस शो को लोकप्रियता में रोड़ा बन सकती है।

By Jitendra Arora

- एडिटर, मोटिवेटर, क्रिएटर | - वेब & एप डेवलपर |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *