जिला पंचायत की बैठकों में समस्याएं लिखित रुप में प्रस्तुत करने के आदेश

रुद्रपुर  –  जिला पंचायत सदस्यों द्वारा पूछे गये प्रश्नों  का
अधिकारियों द्वारा उचित उत्तर न दिये जाने पर जिला पंचायत की बैठक में
बोलते हुए जिला पंचायत अध्यक्ष ईष्वरी प्रसाद गंगवार ने कहा कि आज की बैठक
में अधिकारी संतोशजनक उत्तर नहीं दे पाये जो बहुत ही सोचनीय विषय है।
उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सभी अधिकारी जिला पंचायत की बैठक
में पूर्ण तैयारियों के साथ प्रतिभाग करें ताकि जिला पंचायत सदस्यों द्वारा
पूछे गये प्रश्नों  का सन्तोषजनक उत्तर दे सके। उन्होंने जिला पंचायत
सदस्यों से कहा कि जिला पंचायत की बैठकों में उनके द्वारा जो भी समस्याएं
रखी जाती हैं वे बैठक से पूर्व लिखित रुप में प्रस्तुत करें ताकि उचित
उत्तर देने हेतु सम्बनिधत अधिकारी को समस्या से अवगत कराया जा सके।
 
 श्री
गंगवार ने कहा कि क्षेत्र में जो भी विकास कार्य चल रहे हैं, सम्बन्धित
अधिकारी उसकी जानकारी जनप्रतिनिधियों को अवष्य दें। सदन में जिला पंचायत
राज अधिकारी रमेश त्रिपाठी द्वारा सभी जनप्रतिनिधियों को पंचायती राज
अधिनियम की जानकारी उपलब्ध करायी गई। सदस्यों द्वारा कहा गया कि शिक्षा
विभाग की सम्पत्ति का विकास हो साथ ही शिक्षा विभाग की भूमि पर कोई
अतिक्रमण न होने पाये। सदस्यों द्वारा अवगत कराया गया कि जनपद के बहुत से
चिकित्सालयों में मरीजों से दवा बाहर से मंगायी जाती है। जिस पर जिला
पंचायत अध्यक्ष ने सीएमओ डा0 एचके जोषी से समय समय पर सभी स्वास्थ्य
केन्द्रों का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं में सुधार लाने को कहा। सीएमओ द्वारा
सदन में स्वास्थ्य बीमा योजना व जननी सुरक्षा योजना की जानकारी उपलब्ध
करायी गई। जिला पंचायत सदस्य पूनम राणा ने कहा कि बीपीएल श्रेणी के लोगों
को निःशुल्क चिकित्सा सेवा की जानकारी उपलब्ध कराने हेतु स्वास्थ्य विभाग
द्वारा प्रचार प्रसार किया जाये। लोनिवि द्वारा किये जा रहे कार्यों की
समीक्षा करते हुए सदस्यों द्वारा कहा गया कि लोनिवि के अधिकत्तर कार्य
समयबद्धता से व गुणवत्तायुक्त नहीं हो रहे हैं। उन्होंने लापरवाह ठेकेदारों
के प्रति उचित कार्यवाही की मांग की। जिला पंचायत अध्यक्ष द्वारा लोनिवि
के अधिकारियों को फील्ड में जाकर किये जा रहे कार्यों की देखरेख करने को
कहा गया। जिला पंचायत सदस्य तारा मण्डल द्वारा आपदा के कारण जिन कृशकों की
लाही की फसल बर्बाद हुई है उन्हें भी मुआवजा देने की मांग की गई। सदस्यों
द्वारा मांग की गई की सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानें रोस्टर के अनुसार
खुलें। जो दुकानदार रोस्टर के अनुसार दुकान नहीें खोलता है उसके खिलाफ
कार्यवाही की जाये।
बैठक
को सम्बोधित करते हुए मुख्य विकास अधिकारी ईवा आशीष श्रीवास्तव ने कहा कि
गुणवत्ता के मामलों में जिन सड़कों की शिकायतें आयी हैं, उनकी गुणवत्ता की
जांच कराई जायेगी। कार्यक्रम का संचालन अपर मुख्य अधिकारी जिंप केएस पयाल
द्वारा किया गया। 
बैठक में विधायक राजकुमार ठुकराल, राजेश शुक्ला,जिंप उपाध्यक्ष संदीप चीमा,
सदस्य वहीद उल्ला खां, रमेश चन्द्र, रोषन लाल पूनम राणा, उर्मिला देवी,
परवीन देवी, प्रीतपाल कौर सहित विभिन्न क्षेत्रों से आये जिंप सदसय व पीडी
बालकृश्ण, डीडीओ आरसी तिवारी, सीएमओ डा0 एचके जोशी, मुख्य कृषि  अधिकारी
पीके सिंह, ईई लोनिवि अशोक कुमार, जिला उद्यान अधिकारी रतन सिंह समेत
विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।
इनसाइड कवरेज न्यूज़ – www.insidecoverage.in, www.kashipurcity.com, www.adpaper.in

होम जॉब्स कैसे करें? Online Paise Kaise Kamaye