एसएसपी गाजियाबाद के तबादले की मांग



विवेक शर्मा : 2 जुलाई 2017 को शालीमार गार्डन में स्थित एवरेस्ट पब्लिक स्कूल में जनता व पुलिस का सीधा संवाद पुलिस प्रबुद्ध नागरिक सम्मेलन किया गया कार्यक्रम में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गाजियाबाद हरि नारायण सिंह को बतोर विशिष्ट अतिथि के रुप में निमंत्रण दिया गया जिससे कि ट्रांस हिंडन मे हो रही परेशानियां जैसे चैन स्नाचिंग, पर्स स्नाचिंग , मोबाइल स्नाचिंग , गुंडागर्दी जैसे कई समस्याओं को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के सामने रखा जाए व जनता और पुलिस साथ मिलकर कैसे समस्यों का समाधान हो उसपर बात करी जाए पर कार्यक्रम का मंच सुना सुना रहा क्योंकि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कार्यक्रम मे नहीं पहुंचे | कार्यक्रम में विधायक सुनील शर्मा सहित तक़रीबन 40 से भी ज्यादा आरडब्ल्यूए के सदस्य पहुंचे जो एसएसपी गाजियाबाद से मिलना चाहते थे वह अपनी समस्याओं को बता कर उनका निवारण करवाना चाहते थे पर एसएसपी गाजियाबाद हरिनारायण सिंह के अनुपस्थित रहने के कारण सभी लोग निराश और हताश हुए क्यूंकि सभी को एसएसपी गाजियाबाद हरिनारायण सिंह का आने का इंतजार था कार्यक्रम में सिर्फ शालीमार गार्डन चौकी इंचार्ज व सामान्य नागरिक ही आपस में संवाद कर पाए कई लोगों ने अपनी अपनी समस्याएं चौकी इंचार्ज को बताई पर लोगों का आक्रोश वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हरिनारायण सिंह के ऊपर रहा सभी का कहना था की जब पुलिस के आला अधिकारी ही आम जनता से रूबरू नहीं होंगे आम जनता समस्याओं को नहीं समझेंगे सुनेंगे तो कैसे उसका समाधान करेंगे|

वरिष्ठ नागरिक समाज सेवी जी एस चौहान ने अपनी बातों में कई समस्याएं बताई चौहान ने कहा कि अगर पुलिस का यही रवैया रहा तो किस तरह से लोग अपनी समस्याएं पुलिस के आला अधिकारियों तक पहुंचाएंगे चौहान ने कहा कि उनको सुचना मिली की एसएसपी गाजियाबाद कार्यक्रम में आकर सभी लोगों की समस्याएं सुनेंगे व आम जनता और पुलिस मिलकर समस्याओं का हल करेगी पर उनकी अनुपस्थिति ने यह साबित कर दिया है कि SSP महोदय नहीं चाहते कि आम जनता की समस्याओं का समाधान हो अगर वह कुछ समय के लिए यहां पर आते हैं और हमें बोलते कि अपनी समस्याएं हमें लिखकर दे दे तो उससे भी हमें खुशी होती है पर ऐसा नहीं हुआ और ना ही उनकी जगह कोई दूसरे अधिकारी कार्यक्रम में पहुंचे| जी एस चौहान ने कहा कि अगर SSP महोदय को नहीं आना था तो वह पहले ही मना कर देते उन्होंने साहिबाबाद की जनता का अपमान किया है और उन्होंने सभी की सहमति से कहा की हरिनारायण सिंह वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक का तबादला किया जाए जो जनता की बात सुन नहीं सकता वह जनता के लिए क्या काम कर पाएगा और सभी इसकी शिकायत मुख्यमंत्री योगी व गृहमंत्री राजनाथ सिंह से भी करेंगे |
शालीमार गार्डन निवासी व न्यूज़पेपर्स एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया के महासचिव विपिन गौड़ ने भी कई बातें सबके सामने रखी गौड़ ने कहा की ज्यादातर राज्यों की पुलिस सभी से बहुत अच्छे से बात करती है सुनती है समझती और शिकायत दर्ज करती है पर उत्तर प्रदेश मे पुलिस बात सुनती ही नहीं है और बात करने की तहजीब इतनी गन्दी है बिना गाली गलोच के बात ही नहीं करते कोई शिकायत करने जाता है तो वही शिकार बन जाता है इसलिए कई शरीफ लोग जुल्म सह लेते हैं पर पुलिस के पास शिकायत करने नहीं जाते और गौड़ ने दुसरे राज्यों के आधिकारियों के बारे मे भी बयाता की किस तरह से पुलिस के आला आधिकारी जनता के बीच जाते हैं जनता के ऊपर अपना भरोसा बनाते हैं और जनता की सहायता से बड़ी बड़ी समस्याओं का हल निकलते हैं |
शालीमार बी ब्लाक RWA आध्यक्ष श्री जैन ने बताया की शालीमार गार्डन मे चैन स्नाचिंग, पर्स स्नाचिंग , मोबाइल स्नाचिंग जैसी घटनाएं रोजाना बढती जा रही है , कॉलोनी मै चोरियां रुकने का नाम नहीं ले रही है महिलाओं के साथ छेड़खानी की घटनाएं बढ़ रही है , छोटे छोटे बच्चे बेट्री रिक्शा चला रहे हैं जो की कई एक्सीडेंट जैसी घटनाओं को अंजाम देते हैं , रेडी पटरी फिर से सड़कों पर आगई जो फिर से बेलगाम हो गए हैं श्री जैन ने कहा की अगर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गाजियाबाद हरि नारायण सिंह जी यहाँ होते तो शायद समस्याओं का समाधान करने मे आसानी होती वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गाजियाबाद ने सभी को निराश किया है | पंडित राम प्रताप गौड़ ने कहा की हम तो पुलिस के आँख कान और हाथ बनना चाहते हैं पर दुर्भाग्यवश वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हरिनारायण सिंह जी नहीं चाहते की आम जनता के साथ मिलकर सुधर किया जाए जबकि राम प्रताप और जी एस चौहान द्वारा कई RWA के साथ मिलकर पिछले 1 हफ्ते से इस कार्यक्रम की तयारी की जा रही थी पर अंत मे सभी को खली हाथ और निराश होकर लोटना पड़ा |
 कार्यक्रम मे शालीमार गार्डन, वृन्दावन गार्डन, पसोंडा, शहीद नगर, राजेंद्र नगर, लाजपत नगर, तुलसी निकेतन, जनकपुरी, आर एन ब्लाक , श्याम एन्क्लेव RWA सहित कई RWA व सामाजिक कार्यकर्ताओं सहित कई महिला समाजसेवी ने हिस्सा लिया | कार्यक्रम के संयोजक वरिष्ठ समाजसेवी पंडित राम प्रताप गौड़ , सुमन सत्ती , कृष्णा लखेदा , ज्योति चौहान , अन्नू चौधरी , आरती , इंद्रा रानी , नरेश देवरानी , डॉ डंगवाल , धर्मानंद देवली , अमित राना , युनुस बालियान , जाने माने समाजसेवी ज्ञानेंद्र सिंह चौहान जिनके आवाहन पर भारी संख्या में क्षेत्र के समस्त वरिष्ठ बुद्धिजीवी और आरडब्ल्यूए के अधिकारी जन सामाजिक कार्यकर्ता जुटे |

पैसे कैसे कमायें ? Paise Kaise Kamaye