महाराष्ट्र के कोंकण इलाके में सिंधदुर्ग जिले के वायरी समुद्र में तैरने गए आठ इंजिनियरिंग के छात्रों की डूबकर मौत हो गई. ये दर्दनाक घटना शनिवार को सुबह तकरीबन 11 बजे घटी, जिससे पुरे वायरी बीच पर शोक का माहौल फैल गया.

स्थानीय पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक ये छात्र कर्नाटक के बेलगाव शहर के मराठा इंजिनियरिंग कॉलेज के छात्र थे. कुल 50 छात्रों की ट्रिप महाराष्ट्र के पुणे शहर में स्टडी टूर के लिए निकली थी, शनिवार के दिन ये छात्र सिंधदुर्ग दर्शन के लिए रुके थे.
दरअसल जोश में आकर कुछ छात्र वायरी समुद्र बीच पर पानी में उतरे और देखते ही देखते गहरे पानी में चले गए. समुद्र उफान पर था, जिसका अंदाजा छात्रों को नहीं लगा और ये हादसा हुआ. छात्रों के साथ आए मराठा कॉलेज की महिला टीचर्स को जब इस घटना के बारे में पता चला तो सदमे से वो बेहोश हो गईं.
अपने साथियों को डूबता देख समुद्र के किनारे खड़े बाकी छात्रों ने मदद के लिए चिल्लाना शुरू किया तब स्थानीय मछुआरों ने अपनी जान जोखिम में तीन को बचाया, जिसमें दो छात्र और एक प्रोफेसर हैं. ग्यारह छात्रों को स्थानीय मछुआरों ने समुद्र से निकला. 8 के शव पोस्टमार्टम के लिए सिंधदुर्ग शहर के सरकारी अस्पताल में भेजा गया है. तीन छात्र की हालत गंभीर बताई गई है.

By Jitendra Arora

- एडिटर, मोटिवेटर, क्रिएटर | - वेब & एप डेवलपर |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *