[email protected]
May 17, 2022
11 11 11 AM

फार्चून की ’40 अंडर 40′ लिस्‍ट में भारतीय मूल के 5 लोग शामिल, फ्रांसीसी राष्‍ट्रपति पहले पायदान पर

शेयर जरुर करें

न्यूयॉर्क: आयरलैंड के प्रधानमंत्री लियो वरादकर समेत भारतीय मूल के पांच लोग फार्चून की 40 युवा और प्रभावी लोगों की सूची में शामिल किये गये हैं. सूची में उन लोगों को जगह दी गई है जिन्होंने अपने काम से अन्यों को प्रोत्साहित किया. फार्चून की 2017 ’40 अंडर 40′ सूची सर्वाधिक प्रभावी युवा लोगों की सालाना सूची है. ये वे लोग हैं जिनकी उम्र 40 साल से कम है और अपना काम कर रहे हैं. पत्रिका ने ऐसे लोगों को नवप्रर्वतक, विद्रोही और कलाकार तथा अन्य को प्रोत्साहित करने वाला बताया.
सूची में फ्रांस के 39 साल के राष्ट्रपति एमानुएल मैक्रोन पहले पायदान पर हैं. यह नेपोलियन के बाद सबसे युवा नेता हैं जिन्होंने मई में राष्ट्रपति चुनाव में जीत हासिल की. सूची में भारतीय मूल के लोगों में 26 साल की दिव्या नाग, 31 साल के ऋषि शाह, शारदा अग्रवाल (32) तथा सैमसोर्स की सीईओ तथा संस्थापक लीला जाना शामिल हैं.
दिव्या नाग
एपल की महत्वकांक्षी रिसर्चकिट और केयर किट कार्यक्रम को देखती हैं और संबंधित लोगों को स्वास्थ्य संबंधित एप के विकास के लिये प्रोत्साहित करती हैं. ऋषि शाह तथा तथा शारदा अग्रवाल 10 साल से अधिक समय से स्वास्थ्य प्रौद्योगिकी कंपनी आउटकम हेल्थ का जिम्मा संभाल रही हैं. सूची में दिव्या 27वें स्थान पर हैं. फार्चून के अनुसार, दिव्या ने स्टेम सेल शोध स्टार्टअप की स्थापना की और चिकित्सा क्षेत्र में निवेश को गति दी. सूची में शाह तथा शारदा 38वें स्थान पर हैं. दोनों ने 40,000 से अधिक डॉक्‍टरों के कार्यालयों में टच स्क्रीन और टैबलेट लगाया जो संबंधित चिकित्सा सूचना तथा संबंधित जानकारी देता है.
लियो वरादकर
38 वर्षीय वरादकर सूची में पाचवें पायदान पर हैं. उनके पिता का जन्‍म भारत में हुआ था. फार्चून के अनुसार आयरलैंड में काफी प्रवासी हैं लेकिन उसके नये प्रधानमंत्री का व्यक्तित्व अलग है. वह मुंबई से यहां आये प्रवासी हिंदू परिवार के हैं. पूर्व में डॉक्‍टर रहे वरादकर आयरलैंड के सबसे युवा नेता हैं.
लीला जाना
फार्चून की सूची में लीला 40वें स्थान पर हैं. भारतीय प्रवासी की पुत्री लीला का गैर-सरकारी संगठन सैमासोर्स इस साल 1.5 करोड़ डालर हासिल करने के रास्ते पर है. वह वैश्विक स्तर पर गरीबी समाप्त करने के लिये काम पर जोर देती हैं न कि परमार्थ कार्यों पर.
सूची में फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग दूसरे स्थान पर हैं. उनके बाद एयरबीएनबी के के मुख्य कार्यपालक अधिकारी तथा सह-संस्थापक ब्रायन चेसकी, नाथन ब्लेचारासाइक, जोइ गेबिया चोथे तथा टेनिस स्टार सेरेना विलयम्स सातवें स्थान पर हैं.

शेयर जरुर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.