बेंगलुरू: मंगलवार सुबह बेंगलुरू में शुरुआती तीन घंटों में रिकॉर्ड 180 मिलीमीटर बारिश हुई, जबकि अगस्त में पिछले 100 वर्षों में सर्वाधिक बारिश दर्ज की गई है. बारिश ने पूरे शहर में कहर बरपा दिया और सामान्य जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया है. सड़कें और घर बाढ़ के पानी में डूब गए हैं, जिससे 71वें स्वतंत्रता दिवस समारोहों पर पानी फिर गया. बृहत बेंगलुरू महानगर पालिका (बीबीएमपी) के आयुक्त मंजूनाथ प्रसाद ने बाद में संवाददाताओं से कहा, “सिर्फ तीन घंटे (तड़के 3.00 से 6.00 बजे तक) में हुई भारी बारिश शहर की सीवर प्रणाली झेल नहीं सकी, जिसके परिणामस्वरूप कई जगहों पर सड़कों पर बारिश का पानी जमा हो गया.”

मूसलधार बारिश से कई पेड़, बिजली के खंभे और तार उखड़ गए. यहां तक कि समूचे शहर में बिजली की आपूर्ति ठप हो गई. अधिकारियों ने कई इलाकों में बचाव अभियान में नौकाओं का इस्तेमाल किया, जबकि कई इलाकों में सुबह से बिजली नहीं आई.



बीबीएमपी नियंत्रण कक्ष के एक अधिकारी ने बताया, “हमें पानी में फंसे सैकड़ों लोगों की शिकायत मिली हैं और बारिश का पानी घरों से लेकर अपार्टमेंट तक में घुस गया है

By Jitendra Arora

- एडिटर, मोटिवेटर, क्रिएटर | - वेब & एप डेवलपर |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *