लखनऊ: उत्तर प्रदेश में हुकूमत जाते ही आज इटावा में मुलायम सिंह के घर बिजली महकमे की जांच शुरू हो गई. जांच में पता चला कि मुलायम सिंह के बंगल में सिर्फ 5 किलोवॉट लोड का मीटर लगा है जबकी उनके घर पर बिजली के इस्तेमाल के लिहाज़ से 40 किलोवॉट का लोड है. यही नहीं उन पर चार लाख से ज़्यादा बिजली का बिल भी बाक़ी है. इसे जमा करने के लिए उन्हें बिजली महकमे ने 30 अप्रैल तक का वक्त दिया है.

मुलायम सिंग इटावा के सबसे सबसे खूबसूरत बंगल के मालिक हैं. बंगला करीब बीस साल पुराना है, जिसे पिछले दो साल में तोड़कर नया बनाया गया है. मुलायम ने पिछले साल नवरात्रि में ही अपने बंगले में गृह प्रवेश किया है.
मुलायम के बंगले में एक दर्जन से ज्यादा कमरे हैं. घर को ठंडा रखने के लिए एसी प्लांट लगा है. घर में कई लिफ्ट हैं, जिनकी वजह से बिजली की खपत काफी ज्यादा है. बिजली महकमे के लोग एसडीओ आशुतोष वर्मा के नेतृत्व में तीन गाड़ियों में मुलायम के बंगले पहुंचे. बंगले में मौजूद केयर टेकर सतीश ने सबको अंदर बुलाकर बंगले का गेट बंद कर लिया ताकि इसका बाहर ज्यादा प्रचार न हो.
मुलायम के बंगले में करीब 15-20 लोगों का स्टाफ रहता है. इसके अलावा उनके सिक्योरिटी के लोग रहते हैं. मुलायम भले यहां कम आते हों लेकिन यहां रहने वाला स्टाफ भी बिजली का इस्तेमाल करता है.
बिजली विभाग के अधिकारियों की टीम ने गुरुवार को सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के सिविल लाइन स्थित आवास पर जाकर जांच की और 5 किलोवाट के अधिभार को बढ़ाकर 40 किलोवाट करके नया मीटर लगा दिया. मुलायम सिंह पर बिजली विभाग का चार लाख 10 हजार 665 रुपये बकाया भी है. बिजली विभाग की टीम ने मुलायम सिंह के घर पर 5 किलोवाट की जगह 40 किलोवाट क्षमता का मीटर लगा दिया.
उत्तर प्रदेश में बिजली चोरी के मामले में इटावा नंबर एक पर आता है. सत्ता बदलते ही बिजली अधिकारी लगातार बिजली चोरी रोकने को लेकर अभियान लगातार चला रहे हैं.

By Jitendra Arora

- एडिटर, मोटिवेटर, क्रिएटर | - वेब & एप डेवलपर |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *