विवेक शर्मा , 18 जून 2018, नई दिल्ली: चांगवॉन वर्ल्ड फेस्टिवल, के-पॉप कांटेस्ट 2018 का दिल्ली रीजनल राऊंड सफलता पूर्वक संपन्न हुआ। इस प्रतियोगिता का लक्ष्य भारतीय प्रतिभागियों को चांगवॉन वर्ल्ड फेस्टिवल के लिए चयन करना है जिसमे विश्व के लगभग 70 देश भाग ले रहे है| भारत में प्रतियोगिता का अंतिम चरण दिल्ली के सिरीफोर्टे ऑडिटोरियम में 09 जुलाई 2018 को होगा जिसका आयोजन कोरियन कल्चरल सेंटर भारत ने किया है|
इस प्रतियोगिता के डांस में प्रथम रहे वी आर फैमिली क्रू, द्वितीय वी 13 और तृतीय री-क्रिएटर्स| संगीत में बाजी मारी स्टेला के ज़ोडीनपुई, प्रभा बेहेरा और को लाइट ग्रुप| प्रथम आयी स्टेला ने कोरियन गीत की स्पेशल ट्रेनिंग के पॉप एकेडमी से ली है जिसे कोरियन कल्चरल सेंटर ने आयोजित किया है| एकेडमी 22 जून तक चलेगा|
 
यह प्रतियोगिता का सातवां भाग था जिसके लिए प्रतिभागियों ने पहले से ही तैयारियां शुरू कर दी थी। प्रतियोगिता तीन स्तर पर बांटा था – ऑनलाइन राउंड, रीजनल राउंड और आखिर में फ़ाइनल राउंड| इस साल 1216 से प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया जिसमे से 648 ने अपनी जगह रीजनल राउंड में बनाई, दिल्ली से 94 प्रतिभागियों थे|
कोरियन कल्चरल सेंटर के निदेशक किम कुम प्योंग ने कहा की लम्बे समय के प्रयास के बाद अब यह कहा जा सकता है कि भारत में के-पॉप की लहर फिर से आ गयी है। हम भारत में के -पॉप के ऐसे मजबूत और उत्साही प्रशंसक दर्ज़ करेंगे जिससे कोरियाई लोग भी हैरान हो जायेंगे।
डांस ग्रुप वी 13 ने ‘मनसै बाई 17’ पर बेहतरीन परफॉर्म किया| वही शोधऱ जिमिक ने अपनी आवाज से सबको मुग्ध किया| डांस ग्रुप फियरलेस फोर (कारा, एलिजाबेथ, नैंसी और मैरीआ) ने बैंड ब्लैक पिंक पर शानदार परफॉरमेंस दी|  प्रतिभागियों के उत्साहपूर्ण परफॉरमेंस ने दिल्ली के प्रशंषकों को अचंभित कर दिया|

By Jitendra Arora

- एडिटर, मोटिवेटर, क्रिएटर | - वेब & एप डेवलपर |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *